Christmas in Hindi :त्यौहार कोई भी सबसे ज्यादा उत्साह हमें बच्चों में ही देखने को मिलता है। दोस्तों हर वर्ष पूरी दुनिया में क्रिसमस का त्यौहार 25 दिसम्बर को मनाया जाता है जिसे बड़ा दिन भी कहा जाता है। आज हम बच्चों के लिए क्रिसमस पर निबंध लेकर आये है। यह निबंध कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के बच्चों के लिए है।

यदि आपको भी स्कूल में Essay on Christmas in Hindi में घर से लिखकर लाने के लिए कहा गया है तो आप इस निबंध से सहायता ले सकते है।

क्रिसमस पर निबंध 100 शब्द कक्षा 1 व 2 के लिए : Essay on Christmas in Hindi

क्रिसमस ईसाईयों का सबसे प्रमुख त्यौहार है, जो ईशा मसीह के जन्मदिन के अवसर पर हर साल 25 दिसम्बर को मनाया जाता है। इसे बड़ा दिन भी कहा जाता है। इस दिन का इन्तेजार बच्चों को सबसे ज्यादा रहता है। आज के दिन घरों में साफ़ सफाई और सजावट का खूब सारा इन्तेजाम किया जाता है। आज के दिन लोगों के घरों में कई प्रकार व्यंजन और मिष्ठान बनाये जाते है। आज के दिन चर्च में विशेष प्रार्थना का आयोजन होता है, जिसके बाद लोग एक दुसरे से मिलकर क्रिसमस की शुभकामनायें देते और इस त्यौहार का आनंद उठाते है।

क्रिसमस पर निबंध 200 शब्द कक्षा 3 व 4 के लिए : Essay on Christmas in Hindi

क्रिसमस का त्यौहार पूरी दुनिया में बहुत ही धूम धाम से मनाया जाता है। यह त्यौहार प्रभु ईशा मसीह के जन्मदिन के अवसर पर मनाया जाता है। क्रिसमस का पर्व ईसाईयों का सबसे बड़ा पर्व है जो 25 दिसम्बर को मनाया जाता है। प्रभु ईशा को परमेश्वर का एकलौता पुत्र माना जाता है। जिन्होंने सभी को प्यार और मानवता की शिक्षा दी। उनके समय में कुछ राजा ऐसे थे जिन्हें ईशा मसीह के परमेशवर का पुत्र होने का विश्वास नहीं था। जिसके कारण उन्हें सूली पर चढ़ा दिया गया था।

लोगों की मान्यता के अनुसार सूली पर चढ़ाए जाने के बाद ईशा मसीह फिर से जीवित हो गए थे, जिससे लोगों में उनके प्रति विश्वास और भी ज्यादा बढ़ गया था।

Christmas in Hindi : Essay on Christmas in Hindi

क्रिसमस ईसाईयों का सबसे प्रमुख त्यौहार है. जो 25 December को ईसा मसीह के जन्मदिन के अवसर पर पुरे विश्व में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है. यह ईसाईयों का सबसे बड़ा त्यौहार है और इसे “बड़ा दिन” के नाम से भी जाना जाता है.आज के दिन लोग अपने घरों को बड़ी ही धूमधाम से सजाते है और इस पर्व को यादगार बनाने के लिए इस पर्व की तैयारियां कई दिन पहले से ही शुरू कर देते है. इस पर्व के लिए घरों में साफ़ सफाई की जाती है, सभी लोग नए कपड़े पहनते है और विभिन्न विभिन्न प्रकार के व्यंजन बनाए जाते हैं।

क्रिसमस को मानाने के लिए आक के दिन के लिए चर्चों को बहुत ही खुबसूरत तरीके से सजाया जाता है। क्रिसमस के कुछ दिन पहले से ही चर्च में प्रभु यीशु मसीह की जन्म गाथा को नाटक के रूप में प्रदर्शित किया जाता है जो न्यू ईयर तक चलते रहते हैं। कई जगह क्रिसमस के दिन मसीह समाज द्वारा जुलूस निकाला जाता है। जिसमें प्रभु यीशु मसीह के जीवन से जुडी झांकियां प्रस्तुत की जाती हैं। क्रिसमस की पूर्व रात्रि, गि‍‍‍‍रिजाघरों में रात्रिकालीन प्रार्थना सभा की जाती है जो रात के 12 बजे तक चलती है। ठीक 12 बजे लोग अपने प्रियजनों को क्रिसमस की बधाइयां देते हैं और खुशियां मनाते हैं।

क्रिसमस पर बनाने वाला का सबसे विशेष व्यंजन केक है, केक के बिना क्रिसमस का पर्व अधूरा रहता है यह ठीक उसी तरह है जैसे होली में गुझिया का ना होना. क्रिसमस के दिन लोग चर्च और अपने घरों में क्रिसमस ट्री सजाते हैं। सांताक्लॉज बच्चों को चॉकलेट्स और गिफ्ट्स देते हैं।

आशा करता हूँ आप लोगों को ये जानकारी Christmas in Hindi, Essay on Christmas in Hindi जरूर अच्छी लगी होगी. Essay on Christmas in Hindi मुख्यतः बालकों को ध्यान में रख कर ही लिखा गया है.जिससे बच्चों को याद करने में आसानी रहे.

Previous articleडाउनलोड: Uunchai Full Movie Download Torrent websites links
Next articleHappy New Year shayari 2023 Hindi Status
कुलदीप मनोहर Kyahai.net हिंदी ब्लॉग के Founder हैं. मै एक Professional Blogger हूँ और SEO, Technology, Internet से जुड़े विषयों में रुचि रखता हूँ. अगर आपको ब्लॉगिंग या Internet जुड़ी कुछ जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है. हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अच्छी से अच्छी जानकारी मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here