होली की ठंडाई बनाने की विधि : होली का जिक्र आये और ठंडाई का स्वाद जुबां पर ना छाए ऐसा कैसे हो सकता है ? ठंडाई को कुछ इलाकों में सरदई के नाम से भी जाना जाता है. यह एक ऐसा ठंडा मीठा पेय है जो सूखे मेवों, गुलाब की पंखुड़ियों और कई तरह से मसालों को पीस कर बनाया जाता है. अब जबकि होली बस कुछ दिन ही दूर है तो ऐसे में मेरे दिमाग में पकवानों की तयारी करते समय जो सबसे पहला नाम आता है वह ठंडाई ही है. ठंडाई ही एक ऐसा पेय है जो अपनी शीतलता और ठंडक se तरोताज़ा कर देता है. होली के मौके पर ठंडाई विशेष रूप से बनायीं और पी जाती है. इस लिए आज मैं आप सबके साथ अपनी दादी माँ की रसोई की खास ठंडाई बनाने की विधि बताने जा रहा हूँ.

होली की ठंडाई बनाने की विधि : होली विशेष

हम अक्सर ठंडाई का मतलब भांग के मीठे पेय से लेते है जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है. ठंडाई और भांग में अंतर होता है. बहुत सारे लोग होली पर भांग पीते है भांग अपेक्षाकृत काफी गाढ़ी होती है और भांग के पौधे की पत्तियों को पीस कर बनायी जाती है. जबकि ठंडाई बिना किसी नशीले पदार्थ के बनायीं जाती है और इसमें काफी मात्र में पौष्टिकता होती है जो दिमाग के लिए बहुत लाभदायक है. आइये जानते है …

ठंडाई बनाने के लिए आवश्यक सामग्री :

  • दूध 2 कप
  • फुल क्रीम दूध 2 कप
  • गुलाब जल 1 चम्मच
  • चीनी स्वाद अनुसार
  • पानी जरुरत के हिसाब से

मसाला बनाने के लिए आवश्यक सामग्री :

  • काजू के टुकड़े 2 चम्मच
  • चार मगज 1 चम्मच
  • केसर 1 चम्मच
  • दाल चीनी पाउडर 1 चम्मच
  • जाफल पाउडर 1 चम्मच
  • गुलकंद 1 या 2 चम्मच
  • सौंफ पाउडर 1.5 चम्मच
  • इलाईची पाउडर १ चम्मच
  • खस के दाने 1 चम्मच
  • बादाम 10-12 टुकड़े
  • पिस्ता 10-15
  • कालीमिर्च के दाने 3-4 दाने

होली पर ठंडाई बनाने की विधि

सबसे पहले दूध को उबाल ले फिर उसमे केसर घोल कर कुछ देर के लिए रख दें. ऐसा करने से केसर अपना रंग और खुशबु दूध में छोड़ देगा. इसके बाद बाकी के मसालों को मिलाकर पेस्ट के रूप में तैयार कर ले. अब उबलते दूध में यह पेस्ट धीरे धीरे मिला दे और दूध को किसी चमचे से लगातार हिलाते रहे. कुछ देर दूध को मसालों को के साथ पकाने के बाद इसे ठंडा हो जाने दे. पूरी तरह ठंडा हो जाने पर इसमें चीनी, गुलाबजल, और गुलाब की पंखुडियां मिला दे. करीब एक घंटे तक इस मिश्रण को ऐसे ही छोड़ दे. फिर छान कर कर बिलकुल ठंडा कर ले और बस आपकी ठंडाई पूरी तरह तैयार है.

तो दोस्तों क्यूँ ना इस बार होली इस मस्त ठंडाई का मज़ा लिया जाए और अपनी होली को मस्त बनाया जाये.

Previous articleAyushman Bharat Yojana 2018 Ke liye Online Awedan Kaise kare
Next articleहोली पर विशिष्ट व्यक्तियों के मजेदार नाम : #व्यंग
कुलदीप मनोहर Kyahai.net हिंदी ब्लॉग के Founder हैं. मै एक Professional Blogger हूँ और SEO, Technology, Internet से जुड़े विषयों में रुचि रखता हूँ. अगर आपको ब्लॉगिंग या Internet जुड़ी कुछ जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है. हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अच्छी से अच्छी जानकारी मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here