नीम प्रकृति का वरदान है, Neem ke fayde जितने भी बताये जाये वो कम है, ईश्वर ने नीम के रूप में हमें स्वस्थ रहे का वरदान दिया है| नीम में इतने गुण हैं कि ये कई तरह के रोगों के इलाज में काम आता है।

Neem ke fayde
Neem ke fayde

यहाँ तक कि इसको भारत में ‘गांव का दवाखाना’ कहा जाता है। Neem के औषधीय गुणों की वजह से आयुर्वेदिक मेडिसिन में पिछले चार हजार सालों से भी ज्यादा समय से इस्तेमाल हो रहा है। नीम को संस्कृत में ‘निम्ब’ भी कहा जाता है|

Neem ke fayde नीम के फायदे :

  • नीम के अर्क में मधुमेह यानी डायबिटिज, बैक्टिरिया और वायरस से लड़ने के गुण पाए जाते हैं।
  • नीम के तने, जड़, छाल और कच्चे फलों में शक्ति-वर्धक और मियादी रोगों से लड़ने का गुण भी पाया जाता है।
  • इसकी छाल खासतौर पर मलेरिया और त्वचा संबंधी रोगों में बहुत उपयोगी होती है।
  • Neem के पत्तों में मौजूद बैक्टीरिया से लड़ने वाले गुण मुंहासे, छाले, खाज-खुजली, एक्जिमा वगैरह को दूर करने में मदद करते हैं।
  • Neem के तेल से मालिश करने से कई प्रकार के चरम रोग ठीक हो जाते है|
  • Neem की दातुन करने से दन्त व मसूढ़े मजबूत होते है तथा दाँतों में कीड़ा नहीं लगता है|
  • Neem की दातुन करने से मुंह से दुर्गन्ध चली जाती है और पायरिया जैसे रोग भी ख़तम हो जाता है |
  • नीम की छाल को पानी में घिस कर घाव वगैरह में लगाने से  घाव जल्दी भर जाता है |
  • बिच्छु के काटने पर नीम के पत्तों को मसल कर काटे गए स्थान पर लगाने से जसर का असर कम हो जाता है और जलन भी कम हो जाती है |
  • नीम का फूल और नीम का फल खाने से पेट के रोग भी ठीक हो जाते है |

Height Badhane Ke Liye Yoga Tips : Long Height Growth in Hindi

Weight Loss karne me Neem ke fayde :

Neem body ka weight kam karne में भी बहुत अच्छा फायदेमंद है | ये body के metabolic rate को maintain रखता है जिससे की आपका भोजन fat में नहीं बदलता है भोजन आसानी से पचता है | तो अगर आप मोटापे से परेशां है तो अभी से रोज नीम का juice पीना शुरू कर दीजिये.

एलर्जी रोग में Neem ke Fayde :

एलर्जी रोग में भी  Neem ke Fayde है नीम के पत्तों को पीस कर पेस्ट बना लें, उसकी छोटी-सी गोली बना कर सुबह-सुबह खाली पेट शहद में डुबा कर निगल लें। उसके एक घंटे बाद तक कुछ भी न खाएं, जिससे नीम ठीक तरह से आपके सिस्टम से गुजर सके। यह हर प्रकार की एलर्जी – त्वचा की, किसी भोजन से होने वाली, या किसी और तरह की – में फायदा करता है।

पीलिया रोग में Neem ke Fayde :

नीम के पत्तों का रस और उसमे सोंठ मिला कर रोगी  को दिन में तीन बार 2-2 चम्मच दिया जाये तोबहुत जल्दी लाभ होया है और लीवर भी मजबूत हो जाता है|

आँखों की रोशनी बढाता है : नीम आँखों के लिए भी लाभदायक है | नीम के पत्ते का रस प्रतिदिन 1 बूंद आँखों में डालने से आँखों की रोशनी बढती है |
मधुमेह रोग में फायदेमंद है : नीम का रस मधुमेह रोगियों में इन्सुलिन तेजी से बढाता है |  मधुमेह रोगियों को प्रतिदिन 2-3 बार नीम का रस पीना चाहिए |
बालों के लिए लाभकारी: नीम के पत्त्तों को पानी में उबल कर  गुनगुना होने तक ठंडा कर ले फिर उस पानी से अपने बलों को धुले इससे बालों की रुसी ख़तम होती है व गंजेपन को रोकता है |

health tips in hindi

Previous articleक्या है भीम BHIM App बिना इंटरनेट के भी करेगा काम : Download Bhim App
Next articleDomain Authority Kya Hai ? What is DA hindi me

5 COMMENTS

  1. बहुत बढ़िया पोस्ट सर ! मै आपका बड़ा फैन हु आपकी प्रत्येक नई पोस्ट ध्यान से पढना हु, यह कहने में मुझे कोई हर्ज नही हैं. आपकी वेबसाइट नवींन ज्ञान और अच्छे पाठक अनुभव से इंडिया की सबसे बेहतरीन वेबसाइट में से एक हैं. मैंने भी आप से प्रभावित होकर एक ब्लॉग स्टार्ट किया हैं. मेरे ब्लॉग का पता हैं, हैं. एक बार कृपा कर जरुर देखे और कुछ सुझाव दे. सर

Comments are closed.