Pi network क्या है: दोस्तों आज हम Pi network के Pi coin के बारे में बात करने जा रहे है। दोस्तों अगर आपसे कहा जाए जाये कि बिना इन्वेस्टमेंट के भी आप भविष्य में कुछ पैसा कमा सकते है, तो शायद आपको मज़ाक लगेगा लेकिन Pi network एक ऐसा क्रिप्टोमार्केट नेटवर्क है जिसमे आप बिना एक पैसा इन्वेस्ट किये भी भविष्य में खूब सारा पैसा कमा सकते है।

दोस्तों आज के समय में जिस तेजी से डिजिटल crypto currency का चलन बढ़ता जा रहा है, हर कोई इस मार्किट में थोडा बहुत तो निवेश करना ही चाहता है। हालाँकि अभी तक भारत मे क्रिप्टो करेंसी को लेकर किसी भी प्रकार के स्पष्ट दिशा निर्देश नहीं जारी हुए है फिर भी लोग इसमें बहुत तेजी से निवेश कर रहे है। लेकिन अगर भारत में इसकी वैधता को लेकर कोई कानून बन जाता है या इसे रेगुलेट कर दिया जाता है तो आने वाले समय में क्रिप्टो मार्किट में आसमान छु लेने वाली तेजी आ जाएगी।

इसलिए दोस्तों मैं आज जो आपको जानकारी देने वाला हूँ उसे पूरा पढ़िएगा, अगर आज आप मौके को चूक गए तो कहीं भविष्य में आपको पछताना न पड़ जाये. क्यूंकि आज जो मैं आपको बताने जा रहा हूँ उसमे आपका एक भी पैसा नहीं खर्च होने वाला है और फिर भविष्य किसने देखा है। तो चलिए सबसे पहले शुरू करते है..

Pi network क्या है?

दोस्तों बिटकॉइन क्या है यह तो आप जानते ही होंगे। ठीक इसी प्रकार से Pi network एक नई क्रिप्टोक्यूरेंसी है, जिसे मोबाइल के माध्यम से माइन किया जाता है। क्रिप्टोकरेंसी डिजिटल मनी का एक नया रूप है जो सरकारों या बैंकों के बजाय एक समुदाय द्वारा बनाया और सुरक्षित किया जाता है। किसी भी क्रिप्टोकरेंसी को कमाने के दो तरीके होते है पहला या तो उसे ख़रीदा जाये या फिर खोजा (माइन) जाये. वर्तमान में किसी भी करेंसी को माइन करने के लिए GPU माइनर की आवश्यकता होती है, जो की काफी महंगे होते है. जबकि PI Coin पहली ऐसी digital currency है जिसे मोबाइल द्वारा माइन किया जा सकता है, और इसे माइन करने में किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं देना होता है।

Pi Network किसने बनाया?

Pi Network Stanford University California की स्नातकों की एक टीम द्वारा द्वारा बनाया गया है, जिसका उद्देश्य हर रोज लोगों को क्रिप्टोक्यूरेंसी में अधिक से अधिक पहुंच प्रदान करने का एक प्रयास है। पाई की कोर टीम का नेतृत्व डा० चेंग्दियाओ फैन, कंप्यूटर वैज्ञानिक डा० निकोलस कोक्कालिस करते है, जिनमें से सभी ने स्टैनफोर्ड के ब्लॉकचेन network के निर्माण में मदद की। इस नेटवर्क का जन्म 14 मार्च, 2019 को किया गया था। और आज इस नेटवर्क में 10 मिलियन से ज्यादा लोग जुड़ चुके है। इस टीम का कहना है कि वह इस परियोजना सफल होने की गारंटी नहीं दे सकते, लेकिन वह इस परियोजना को सफल बनाने के लिए जी जान से लगे है।

PI Coin का Price क्या है?

दोस्तों किसी भी कॉइन की कीमत का निर्धारण तब होता है जब वह Mainnet यानि की एक्सचेंज में शामिल हो जाता है। किसी भी कॉइन को एक्सचेंज में शामिल होने के लिए दो चरणों से गुजरना होता है तब जाकर यह तीसरे चरण में यह Mainnet में शामिल हो जाता है। अभी PI Coin अपने दुसरे चरण में है, जैसे ही यह कॉइन तीसरे फेज में पहुंचेगा यह एक्सचेंज में शामिल हो जायेगा। जिसके बाद ही इस कॉइन की कीमत निर्धारित होगी। अभी इस कॉइन को न तो ख़रीदा जा सकता है और ना ही बेचा जा सकता है, इसे सिर्फ मोबाइल के माध्यम से माइन किया जा सकता है।

PI Coin कैसे कमाए?

दोस्तों PI Coin कमाने का सिर्फ एक ही तरीका है और वो है Mine करना. इस कॉइन को mine करने के लिए आपको इसकी एंड्राइड एप को इंस्टाल करना होगा. उसके बाद आपको अपना अकाउंट बनाना होगा फिर PI Coin का referral code डाल के account को activate करना होगा, जिसके बाद ही आप इस कॉइन को कमा सकते है।

चलिए स्टेप बाई स्टेप स्टार्ट करते है पाई कॉइन माइनिंग कैसे करे?

दोस्तों सबसे पहले हमें PI Network की एप को इंस्टाल करना होगा आप इस लिंक पर क्लिक करके इस एप को इनस्टॉल कर सकते है।

Android Phone के लिए

Iphone के लिए

एप को इंस्टाल करने के बाद ओपन कर लें.

अपना मोबाइल नंबर डाल कर वेरीफाई करें.

इसके बाद आपसे आपका नाम पूछा जायेगा.

फर्स्ट नेम में आपको अपना नाम डालना है और लास्ट नेम में आपको टाइटल डालना है.

उदाहरण के लिए मेरा नाम कुलदीप मनोहर है. तो फर्स्ट नेम में कुलदीप और लास्ट नाम में मनोहर लिखना होगा.

इसके बाद आपसे PI Coin referral code पूछा जायेगा. PI Coin referral code में supermanohar लिखे और नेक्स्ट पर क्लिक कर दे.

जब तक आप PI Coin referral code का इस्तेमाल नहीं करेंगे तब तक आप इस एप से माइनिंग स्टार्ट नहीं कर पाएंगे.

PI Coin referral code = supermanohar

माइनिंग स्टार्ट करने के आपको राईट हैण्ड पर एक एनर्जी का आइकॉन दिखाई देगा आपको इस पर क्लिक करना होगा. आप जैसे ही इस आइकॉन पर क्लिक करेंगे माइनिंग स्टार्ट हो जाएगी. इसके बाद आपको कुछ नहीं करना है. आप इस एप को बंद भी कर सकते है. यह एप बैकग्राउंड में संचालित होकर माइनिंग प्रक्रिया को जारी रखती है. नीचे इमेज में देखें.

PI-Coin-Price
PI Coin mine

यह प्रक्रिया 24 घंटे तक लगातार चलती रहती है, जिसके बाद आपको फिर से इस एप ओपन करके माइनिंग बटन पर क्लिक करना होता है. एक बार जब पर इस बटन पर क्लिक करते है तो कॉइन आटोमेटिक रूप से आपके खाते में जुड़ते रहते है. आप अपने नीचे जितने लोगों को इसमें जोड़ते है आपकी मीनिंग स्पीड भी बढ़ जाती है और ज्यादा से ज्यादा कॉइन एक दिन में माइन कर सकते है.

Pi network Role:

पाई ने अपने नेटवर्क को शामिल करने वाले लोगों के लिए चार रोल निर्धारित किया है। ये रोल आपकी माइनिंग की स्पीड को बढ़ाने में सहायक होते है। ये चार रोल निम्न प्रकार से है:…

  1. पायनियर (Pioneer) – इस रोल के अंतर्गत आपको इस एप पर 3 दिन लगातार माइनिंग करना होता है। जब आप एक बार माइनिंग बटन पर क्लिक कर देते है तो यह माइनिंग 24 घंटे तक लगातार चलती रहती है। जिसके बाद आपको फिर से एप को ओपन कर माइनिंग बटन पर क्लिक करना होता है। आप जैसे ही 3 दिन तक माइनिंग चालू रखते है, आप इस चरण को पूरा कर लेते है।
  2. कंट्रीब्यूटर (Contributor) – 3 दिनों तक माइनिंग करने के बाद आपको ऐप में सुरक्षा सर्कल का आइकन मिलता है। जिस पर आपको क्लिक कर आगे की प्रक्रिया पूरी करनी होती है। कंट्रीब्यूटर बनने के लिए आपको 3-5 लोगों को जोड़ना होता है ।
  3. एम्बेसडर (Ambassador) – एम्बेसडर बनने के लिए आपको नए सदस्य जोड़ने पड़ते है। आपके द्वारा बनाये गए जितने सदस्य माइनिंग करते है उसके हिसाब से आपको 25% अधिक पाई कॉइन माइन करने को मिलते है।
  4. नोड (Node) – पाई ऐप में यह रोल अभी यूजर के लिए चालू नहीं किया गया है। जल्द ही यह फीचर चालू होने की संभावना है ।

पाई कॉइन की विशेषताएँ:

दोस्तों पाई कॉइन की सबसे बड़ी विशेषता तो यह है कि इस कॉइन को एंड्राइड और आईफोन से माइन किया जा सकता है। और इसकी माइनिंग एप की सबसे बड़ी खासियत यह है की इस एप के माध्यम से कॉइन माइन करने में बहुत कम इन्टरनेट डाटा की खपत करता है, और मोबाइल की बैटरी भी न के बराबर खर्च होती है। आज के समय में 10 मिलियन के करीब इस एप के यूजर है, जिनकी संख्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है।

कितनी हो सकती है एक पाई कॉइन की कीमत:

दोस्तों यह तो स्पष्ट रूप से तो कोई भी नहीं बता सकता है कि इस कॉइन की कीमत कितनी हो सकती है। किसी भी कॉइन की कीमत उसके एक्सचेंज में शामिल होने के बाद ही पता चलती है। कॉइन का स्ट्रक्चर कैसा है, ट्रांसेक्शन की स्पीड और फीस कितनी है, भविष्य को लेकर उसकी स्ट्रेटजी क्या होगी, इत्यादि बहुत सी बातें किसी कॉइन की कीमत का निर्धारण करती है।

पाई कॉइन का प्रयोग कहा होगा:

अन्य सभी क्रिप्टोकरेंसी की तरह ही पाई कॉइन का इस्तेमाल भी ऑनलाइन सामान खरीदने, सेवाओं के बदले भुगतान करने इत्यादि व्यापारिक गतिविधियों में किया जा सकता है। वैसे भी आज के समय में

अनुमान है कि पाई का इस्तेमाल भी बाकी क्रिप्टोकरेंसी की तरह सामान और सेवाएं खरीदने या लाभ के लिए व्यापार करने में होगा । जैसे किसी भी मुद्रा का उपयोग किया जाता है । अन्य मुद्राओं के विपरीत, यह एक डिजिटल मुद्रा हैं और सुरक्षित ऑनलाइन लेनदेन प्रदान करने के लिए क्रिप्टोग्राफी की तरह उपयोग होगी ।

क्या पाई कॉइन स्कैम भी हो सकता है?

स्पष्ट तौर पर यह कह पाना तो बहुत ही मुश्किल है, क्यूँकी अभी तक इस कॉइन में किसी भी प्रकार का निवेश नहीं किया जा सकता है और न ही इसे ख़रीदा बेचा जा सकता है। इसलिए इसे स्कैम मानना कठिन है. मैंने बहुत से एक्सपर्ट्स से इस विषय में जानने की कोशिश तो सबका यही कहना है, यदि आप इस कॉइन को माइन करना चाहते है तो इसमें कोई बुराई नहीं है। कई लोगों ने यहाँ तक कहा की इस एप को इस्तेमाल करने से उनका डाटा चोरी हो सकता है। जबकि अभी तक इस प्रकार की कोई भी घटना सामने नहीं आई है।

यदि आप अपने डाटा इनफार्मेशन को लेकर बहुत ज्यादा सतर्क है या फिर अपने मोबाइल में बहुत संवेदनशील चीजो का रखते है तो आप इस कॉइन को माइन करने के लिए अपने दूसरे ऐसे फ़ोन का इस्तेमाल कर सकते है जिसमे आप अपनी बहुत जरुरी एक्टिविटी न करते हो.

सन्दर्भ:

दोस्तों इस लेख का उद्देश्य आपको PI Network के Pi coin के बारे में जानकारी देना है। अगर आप इस नेटवर्क को ज्वाइन करना कहते है तो ऊपर दिए गए लिंक पर क्लिक कर आप इस एप को download कर सकते है और referral में हमारा कोड उसे कर सकते है। आप बिना PI Coin referral code के इस एप को activate नहीं कर सकते है क्यूंकि यह एक सिक्यूरिटी चैन से जुड़ा हुआ एक नेटवर्क है।

PI Coin referral code = supermanohar

जय हिन्द जय भारत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here