WiFi Calling क्या है? बिना Mobile Network Call कैसे करे – Kyahai.Net

दोस्तों अगर आपसे कोई कहे कि बिना mobile network के भी वाईफाई कालिंग संभव है तो आप एक बार इस बात पर विश्वास नहीं करेगें. जी हाँ WiFi Calling के माध्यम से यह संभव है. आज हम इसी विषय के बारे में बात करेंगे कि WiFi Calling क्या है और कैसे होती है बिना नेटवर्क कॉल.

मोबाइल सर्विस लांच होने से लेकर आज तक सारी mobile telecom companies यही दावा करती आ रही है की उनकी कंपनी network के मामले में सबसे best है और end to end coverage देने का दावा करती है. लेकिन सच्चाई इसके बिलकुल विपरीत है. कॉल ड्राप की समस्या हो या network problem आज के दौर में ये बाते आम हो गयी है.

इन सभी समस्याओं से छुटकारा दिलाना और सीमित एरिया में वाईफाई कालिंग की सुविधा दिलाने के उद्देश्य से Wifi calling टेक्नोलॉजी पर काम हो रहा है जिससे मोबाइल कंपनियों के नेटवर्क पर पड़ने वाला अतरिक्त बोझ भी कम हो जायेगा और उभोक्कोताओं भी बेहतरीन कालिंग का लाभ मिलेगा तो आइये जानते है क्या है….

WiFi Calling क्या है?

Wifi calling मोबाइल जगत में एक क्रांतिकारी परिवर्तन है. यह मजबूत नेटवर्क प्रदान करने के साथ साथ wifi कालिंग करने की भी सुविधा प्रदान करता है. Wifi calling को तकनिकी रूप से Voice Over Wi-fi (VoWifi) भी कहा जाता है. आपको यह जानकार हैरानी होगी कि जब इस service को इजाद किया गया था, तब इसे GAN यानि Generic Mobile Access Network के नाम से जाना जाता था.

इसका commercial नाम UMA यानि Unlicensed Mobile Access है. यह तकनीक IMS/SIP यानि IP Media Subsystem/Session Initiation Protocol पर काम करता है जो Mobile Voice Serviceऔर Multimedia Service को बेहतर बनता है. इस सर्विस के लिए IEEE 802.11 wireless network technology का प्रयोग किया जाता है.

इसमें कालिंग के दौरान WifI Network का प्रयोग किया जाता है. जहाँ साधारण 2G, 3G या 4G VLTe calling में सिर्फ मोबाइल नेटवर्क पर कॉल ट्ट्रान्सफर होती है वहीँ Vo-WiFi में mobile network में मोबाइल नेटवर्क के साथ साथ आपके घर, ऑफिस या एनी जगहों के Wi-fi जिससे आपका फ़ोन कनेक्टेड है का भी उपयोग होता है, यहाँ यह कहने का मतलब यह है कि मोबाइल नेटवर्क के साथ साथ Wifi नेटवर्क यानि दोनों तरह के नेटवर्क का उपयोग होता है.

Wifi calling को UMA कहा जाता है. UMA को हमेशा Dual Mode GSM/WiFi से जोड़ कर देखा जाता है. ऐसे में Wifi calling उन्ही फोन में संभव है, जिनमे UMA आधारित IEEE 802.11 वायरलेस नेटवर्क अर्थान वाईफाई सपोर्ट हो. इस का फायदा यह है कि यदि आप Wi-Fi Zone में है और आपका वाई फाई enable है तो यह सर्विस काम करेगी. आप जैसे ही wifi जोन से बाहर जाते है तो आपकी कालिंग GSM या मोबाइल नेटवर्क से कनेक्ट हो जाएगी.

Wi-Fi Calling की शुरुआत कैसे हुई

वैसे तो इस तकनीक की शुरुआत वर्ष 2005 में ही UK की एक कंपनी बीटी फ्यूज़न ने किया था जो Motorola ने किया था. लेकिन उस समय इस तकनीक के लिए “Motorola” ने wi-fi की जगह ब्लूटूथ का प्रयोग किया था. अगस्त 2006 में डेनमार्क में service provider telecom company “Teliasonera” ने Wifi UMA आधारित सर्विस को लांच किया था.

इस सर्विस को “Free Home” का नाम दिया गया था. और यह पहली Wi-fi Calling सर्विस के नाम से जानी गयी. यहाँ से ब्लूटूथ आधारित सर्विस बंद हो गयी. इसके बाद सितम्बर 2006 में में Orange ने यूनिक सर्विस के नाम से इसे लांच किया जिसे “Signal Boost” के नाम से भी जाना गया.

Wifi Calling वाले जब की शुरुआत 2007 से हुई Nokiya, Samsung, Motorola जैसे बड़े brands ने अपने फ़ोन पेश किये. इनमे UAE आधारित 802.11 Wireless network support था. इसके बाद धीरे धीरे विश्व के कई देशों में इस सर्विस को पेश किया गया. 2015 तक इसमें “एटीएंडटी” और “वेरिज़ोन” जैसे बड़े बड़े नाम जुड़ गए.

रही बात भारत की तो 10 दिसम्बर 2019 को Airtel ने इसकी शुरुआत Delhi NCR से की. वही कुछ दिन बाद Jio ने भी अपनी Wifi Calling लांच कर दी. हालाँकि जब Airtel ने जब अपनी wifi calling service start की तो यह सर्विस केवल एयरटेल के ही वाईफाई पर ही काम करता था.

इसके बाद एयरटेल ने अपनी सर्विस में बदलाव किया और अब इस सर्विस का लाभ किसी वाईफाई नेटवर्क के साथ लिया जा सकता है. वहीं जिओ की वाईफाई कालिंग सर्विस लांच के दिन से ही सभी वाईफाई नेटवर्क पर कनेक्ट होने में सक्षम है.

WiFi Calling कैसे काम करता है?

वाईफाई कालिंग वैश्विक स्तर पर भले ही बहुत पहले लांच हो गया हो लेकिन अभी यह सभी फ़ोन में उपलब्ध नहीं है. अभी इस सर्विस का लाभ सिर्फ उन्ही फ़ोन में लिया जा सकता है जिनमे यह सर्विस सपोर्ट हो. इस सर्विस का प्रयोग करने के लिए आपका फ़ोन वाईफाई से कनेक्ट होना चाहिए. इसके बाद आपको फ़ोन की सेटिंग में जाकर Wifi Calling को ऑन करना होगा. अगर आपका फ़ोन ड्यूल सिम है तो अप जिस Sim में एयरटेल या जिओ का सिम लगा हो उसमे वाईफाई कालिंग को इनेबल कर दे. इसी के साथ वाईफाई कालिंग ऑन हो जाएगी.

WiFi कालिंग के फायदे

यह सर्विस उन लोगो के लिए फायदेमंद है जो घर में अब तक कमजोर नेटवर्क के कारण बाहर निकल कर बात करते थे. अब Low Network Zone या No Network Zone में भी Wifi कालिंग की मदद से साफ़ स्पस्ट बात हो पायेगी. घर या ऑफिस के अन्दर जहाँ भी मोबाइल नेटवर्क नहीं आता है यदि वहां वाईफाई की सर्विस उपलब्ध है तो आप आसानी से wifi calling सेवा का आनंद उठा सकेंगे. आपको किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होगी.

क्या Wifi Calling Free है?

आप में से कई लोग सोचते होंगे कि Wifi calling free होगी लेकिन ऐसा कतई नहीं है. साधारण शब्दों में कहू तो वाईफाई कालिंग बिलकुल भी मुफ्त नहीं है. इसमें साधारण calling tariff जो आपके Sim Number पर एक्टिव होगी उसी हिसाब कालिंग चार्ज लगेगा. इसमें wifi कालिंग स्ट्रोंग हो जाती है. और ऐसे में आप घर के कोने कोने में और बेसमेंट तक में बेहतर कालिंग का मज़ा ले पायंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here