Virtual Id : आधार कार्ड की सुरक्षा को लेकर उठ रहे सवालों को ध्यान में रखते हुए अब इसमें कुछ बड़े बदलाव किये जा रहे है. भारतीय पहचान पत्र प्राधिकरण UIDAI ने Aadhar Card की Virtual Id को लागु करने का फैसला किया है. अब सरकारी या अन्य सेवाओं का लाभ लेने के लिए या फिर aadhar card को mobile/sim number verification करने के लिए 12 अंकों का आधार कार्ड नंबर देने की अनिवार्यता नहीं रहेगी. इसके बदले लोग 16 अंकों की vertual Id का प्रयोग कर सकेंगे.

Virtual Id Kya hai Apne Aadhar Card ki Virtual Id Kaise Banaye
Virtual Id Kya hai Apne Aadhar Card ki Virtual Id Kaise Banaye

Virtual Id Kya hai :

Virtual Id 16 अंकों की एक अस्थायी ID होगी जो आधार नंबर से बनायीं जायेगी. इससे किसी भी व्यक्ति का आधार नंबर नहीं निकला जा सकेगा. किसी भी समय पर एक आधार से एक ही वर्चुअल आईडी बन सकती है. कोई भी व्यक्ति जितनी बार चाहे उतनी वर्चुअल आईडी बना सकेगा. New Virtual Id generate होते ही पुराना id नंबर निरस्त हो जायेगा. यह वर्चुअल नंबर आधार की website UIDAI से प्राप्त होगी.

जहां भी आपको खुद को प्रमाणित करना है, आप अपनी आधार संख्या के बजाय अपनी वर्चुअल आईडी का उपयोग कर सकते हैं. उदाहरण के लिए, सिम कार्ड लेने के लिए या मोबाइल नंबर की पुष्टि करने के लिए या आप अपने बैंक खाते को सत्यापित करने के लिए आपको आधार संख्या नहीं देनी है आपको अपना वर्चुअल आईडी नंबर देना होगा. फिंगरप्रिंट आधार प्रणाली को पता चल जाएगा कि यह वर्चुअल आईडी इस आधार नंबर से संबंधित है. वर्चुअल आईडी को किसी भी समय बदला जा सकता है.

Virtual Id के लाभ :

  • उपभोक्ता जितनी बार चाहे उतनी बार new virtual id generate कर सकता है.
  • कोई भी कंपनी वर्चुअल आईडी नंबर से आपका आधार नंबर नहीं निकाल सकेगा.
  • आपकी बैंक डिटेल से लेकर आपकी व्यक्तिगत जानकारी गुप्त रहेगी और कोई भी आपके आधार नम्बर का गलत उपयोग नहीं कर सकेगा.
  • सिर्फ वर्चुअल आईडी नंबर देकर ही किसी भी सेवा के लिए आवेदन कर सकते है.
  • वर्चुअल ID की मदद से अपने ओरिजिनल आधार नंबर को गुप्त रख पाएंगे आप जिसके साथ भी अपना वर्चुअल ID साझा करेंगे वह सिर्फ आपका नाम पता और आपकी फोटो को ही उस वर्चुअल ID से देख पाएगा.
  • अपनी जरूरत के हिसाब से तय सीमा के लिए वर्चुअल ID को जनरेट कर सकेंगे इसका मतलब यह है कि अगर आप सिर्फ 1 हफ्ते के लिए एक वर्चुअल ID को जनरेट करते हैं और जिसके साथ साझा कर रहे हैं वह सिर्फ एक हफ्ते तक ही आपके डेटा को access कर सकेगा आठवें दिन वह नंबर कार्य नहीं करेगा.
  • आप जब चाहे और जितनी बार चाहे वर्चुअल ID जनरेट कर सकते हैं.
  • वर्चुअल ID का इस्तेमाल वह आधार कार्ड धारक कर सकते हैं जिनका मोबाइल नंबर आधार कार्ड में रजिस्टर्ड है.

Virtual Id Kaise Banaye :

  • सबसे पहले आपको UIDAI यूआईडीएआई की वेबसाइट के होमपेज पर जाना होगा. इसके बाद आपको Aadhaar Online Services के सेक्शन में जाना होगा जहाँ पर Aadhaar Services दी हुई है वहां अपको सबसे नीचे की तरफ Virtual ID (VID) Generator का ऑप्शन दिखेगा इस लिंक पर आपको क्लिक करना है ध्यान रहे प्रक्रिया तभी संभव है जब आपका मोबाइल नंबर यूआईडीएआई के डाटा भोज पर रजिस्टर है क्योंकि रजिस्टर मोबाइल पर ही वन टाइम पासवर्ड आता है.
  • Virtual ID (VID) Generate पर क्लिक करने के बाद आप एक नए पेज पर पहुंच जाएंगे जहां आपको अपना आधार नंबर और सिक्योरिटी कोड यानी कि कैप्चा code भरना होगा. पूरी डिटेल देने के बाद आपको send otp पर क्लिक करना है. इसके बाद ओटीपी आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर आ जाएगा.
  • इसके बाद आपको अपना वर्चुअल ID जनरेट करने के लिए ओटीपी कोड डालना होगा कोड डालने के बाद में आप जैसे ही चल क्लिक जनरेटर करेंगे आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आपकी जनरेटेड वर्चुअल ID प्राप्त हो जाएगी.
  • वर्चुअल ID केवल आधार कार्ड होल्डर ही जनरेट कर सकता है अभी वर्चुअल आईडी के लिए 1 दिन का समय सेट किया गया है यानी कि आप हर दिन एक नया वर्चुअल ID जनरेट कर सकते हैं जैसे ही आप नया वर्चुअल ID जनरेट करेंगे पुराना एक्टिव वर्चुअल ID एक्सपायर हो जाएगा.
  • यदि कार्ड फोल्डर ID को भूल जाते हैं तो इसे फिर से हासिल करने का पिकअप यूआईडीएआई फोटो पर मौजूद है फिलहाल वर्चुअल ID जनरेट करने की सुविधा केवल यूआईडीएआई की वेबसाइट पर ही उपलब्ध है.
  • Virtual ID तत्कालिक होता है आधार कार्ड फोल्डर से जब चाहे तब बदल सकते हैं इसलिए एजेंसी द्वारा स्टोर किए गए वर्चुअल ID की कोई वैल्यू नहीं रह जाती हैं.
  • अभी भी ID के लिए कोई एक्सपायरी डेट तय नहीं किया गया है जब तक आधार कार्ड होल्डर कोई नया वर्चुअल ID नहीं जनरेट कर लेता तब तक क्या फल देता है

आशा करता हूँ दोस्तों आपको ये जानकरी Virtual ID Generate karne ka Process in Hindi अच्छी लगी होगी. यदि अपको कोई भी प्रॉब्लम आती है तो आप हमें कमेंट में भी पूछ सकते है.

अपनी आधार card की virtual id बनाने के लिए यहाँ क्लिक करे

UIDAI 1 march 2018 तक इसका software जारी कर चूका है. आधार कार्ड धारक UIDAI या आधार एनरोलमेंट सेण्टर की वेबसाइट और मोबाइल के Aadhar card mobile App Download करके भी आप apni virtual id bana sakte है. अब आधार कार्ड धारक को अपने फिंगरप्रिंट के साथ सिर्फ यह वर्चुअल नंबर देना होगा. इस नंबर की अवधि सीमित होगी. यदि आप अपना वर्चुअल नंबर भूल भी जाते है तो इसे आसानी से फिर भी पा सकते है.

दोस्तों जैसे ही ये प्रोसेस चालू होगा मैं इस पेज पर आपको वर्चुअल आईडी बनाने की पूरी जानकारी step by step दूंगा. आशा करता हूँ आपको यह जानकरी अच्छी लगी होगी तो इस पोस्ट को लाइक और शेयर करना न भूले.

Previous articleComputer के बारे में रोचक जानकारी Interesting Facts About Computer
Next articleFriendship Day Shayari SMS Status Quotes in Hindi 2023
कुलदीप मनोहर Kyahai.net हिंदी ब्लॉग के Founder हैं. मै एक Professional Blogger हूँ और SEO, Technology, Internet से जुड़े विषयों में रुचि रखता हूँ. अगर आपको ब्लॉगिंग या Internet जुड़ी कुछ जानकारी चाहिए, तो आप यहां बेझिझक पुछ सकते है. हमारा यह मकसद है के इस ब्लॉग पे आपको अच्छी से अच्छी जानकारी मिले.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here