Voter ID Card को आधार से लिंक कैसे करे

Voter ID Card ko aadhar se link kaise kare
Voter ID Card ko aadhar se link kaise kare

फर्जी Voter Id card की पहचान करने के हेतु चुनाव आयोग के प्रस्ताव पर कानून मंत्रालय ने सहमति जताते हुए वोटर आईडी कार्ड को Aadhar Card link करना अनिवार्य कर दिया है. चुनाव आयोग के इस प्रस्ताव के अनुसार अब वोटर केवल एक ही Voter Id Card से वोट दे सकेंगे.

अगर आपके पास भी दो वोटर आईडी कार्ड है तो आपको भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.  वोटर कार्ड को Aadhar Card link करने का काम चालू हो चूका है.

दो वोटर कार्ड वालों की कैसे होगी पहचान ?

अगर आप लखनऊ के रहने वाले है तो वहां के Voter List me name होगा फिर आप दिल्ली जाते है और दिल्ली के Voter List Me Name Add करवा देते है तो इससे आपके दो Voter Id card बन बन जाते है एक लखनऊ का और दूसरा दिल्ली का वोटर आईडी कार्ड. इससे दोनों जगहों पर आपका नाम वोटर लिस्ट में ऐड रहता है.

लेकिन वोटर आईडी के Aadhar Card link हो जाने से आपका नाम एक ही वोटर लिस्ट में रह जायेगा. इसका मतलब यह हुआ कि आपका नाम सिर्फ एक ही जगह की वोटर लिस्ट में रह जायेगा और दूसरी जगह की वोटर लिस्ट से अलका नाम कट जायेगा.

इससे क्या होगा ?

चुनाव में पारदर्शिता लाने को लेकर चुनाव आयोग और मंत्रालय के बीच हुई बैठक के दौरान चुनाव सुधारों के लेकर चर्चा हुई. इस बैठक में यह तय हुआ की वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक किया जायेगा साथ ही एक वोटर केवल एक ही जगह से वोट कर पायेगा.

चुनाव आयोग ने अगस्त 2019 को कानून मंत्रालय को वोटर आईडी कार्ड को आधार से लिंक करने का प्रस्ताव भेजा था  जिसे कानून मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने स्वीकार कर लिया था.

Voter Id card को आधार से लिंक कैसे करे?

चुनाव आयोग के अनुसार फर्जी वोटरों पर लगाम लगाने के लिए नए और पुराने कार्ड धारकों को अपना आधार कार्ड नंबर देना जरुरी होगा. साथ अगर कोई नया Voter Id बनवाता है तो तो उसे भी आधार नंबर देना होगा. अगर आप पुराने वोटर कार्ड होल्डर है तो आपको अपना आधार नंबर वोटर कार्ड से लिंक करना होगा.

अगर आप ऐसा नहीं करते है तो आपका नाम वोटर लिस्ट से कट जायेगा. Voer Card को आधार कार्ड से लिंक करने के चार तरीके है. पहला तरीका है NSVP यानि की मतदाता सेवा पोर्टल पर जाकर और दूसरा तरीका है SMS द्वारा तीसरा कॉल करके और चौथा तरीका है BLO द्वारा. आपको इस लेख में चारों तरीके बताने वाला हूँ जिसके माध्यम से आप अपना वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कर सकते है.

आवश्यक डाक्यूमेंट्स : वोटर आईडी को Aadhar Card link करने के लिए जिन डाक्यूमेंट्स की जरुरत पड़ेगी वो है

  1. Voter Id card या EPIC number
  2. आधार नंबर 
  3. रजिस्टर मोबाइल नंबर 

एनवीएसपी पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आधार लिंकिंग:

Voter Id card को Aadhar Card link करने का काम राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (NVSP) पर किया जा सकता है. इसके लिए सबसे पहले आपको NVSP की वेबसाइट पर विजिट करना होगा उसके बाद आपको निम्न चरणों का पालन करना होगा:

चरण 1: सबसे पहले आपको अपना विवरण जैसे राज्य, जिला, विधानसभा और  व्यक्तिगत विवरण जैसे नाम, जन्म तिथि और पिता का नाम दर्ज करें.

चरण 2: एक बार जब आप इन सभी विवरणों को भर देते हैं, तो “Search” बटन पर क्लिक करें. यदि आपके द्वारा दी गई जानकारी सरकारी डेटाबेस से मेल खाती है, तो विवरण दिखाई देगा.

चरण 3: अब आपको “आधार संख्या नहीं” का विकल्प दिखाई देगा जो आपकी स्क्रीन के बाईं ओर होगा. उस पर क्लिक करे.

चरण 4: एक बार जब आप वहां क्लिक करते हैं, तो एक पॉप-अप पेज दिखाई देगा, जहां आपको अपना नाम भरना होगा जैसा कि आधार कार्ड, आधार नंबर, वोटर आईडी नंबर, पंजीकृत मोबाइल नंबर या पंजीकृत ईमेल पते पर दिया गया है।

चरण 5: सभी विवरणों में दर्ज करने के बाद “SUBMIT” पर क्लिक करें.

चरण 6: स्क्रीन पर एक संदेश दिखाई देगा जिसमें कहा गया है कि आधार को मतदाता पहचान पत्र से लिंक करने का आपका आवेदन सफलतापूर्वक पंजीकृत हो गया है.

SMS द्वारा Voter Id card को Aadhar Card से Link लिंक करें

अपने आधार नंबर को अपनी वोटर आईडी से जोड़ने के लिए, निम्नलिखित प्रारूप में 166 या 51969 पर एक SMS भेजना होगा जिसका प्रारूप नीचे दिया गया है:

  • अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर से एक एसएमएस भेजें.
  • एसएमएस को 166 या 51969 पर भेजना होगा.
  • SMS भेजने का प्रारूप है ECILINK<SPACE><EPIC No.>< SPACE><Aadhaar No.>

फोन के माध्यम से मतदाता पहचान पत्र ईपीआईसी से लिंक करें:

Voter Id card को Aadhar Card link करने के लिए भारत सरकार ने देश में विभिन्न राज्यों में कई कॉल सेंटर स्थापित किए हैं. मतदाताओं को 1950 पर फोन करना होगा. और आधार संख्या के साथ अपने मतदाता पहचान-पत्र का विवरण देना होगा. मतदाता पहचान पत्र को आधार से जोड़ने के लिए आप सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे के बीच कॉल कर सकते हैं.

बूथ स्तर के अधिकारियों के माध्यम से लिंक करें

हर राज्य में कई बूथ स्तर के अधिकारी (BLO) हैं जो सभी जानकारी एकत्र करते हैं और आधार कार्ड को Voter Id card से जोड़ते हैं. नागरिकों को उनके इलाके में यह सुविधा प्रदान करने के लिए समय-समय पर विभिन्न शिविर भी आयोजित किए जाते हैं. अपको अपने बीएलओ को आधार कार्ड और वोटर आईडी की स्व-सत्यापित प्रति देनी होगी. प्रदान की गई जानकारी बीएलओ द्वारा सत्यापित की जाएगी और सत्यापन के बाद, यह रिकॉर्ड में सेव कर दिया जायेगा.

दोस्तों अगर आपने अभी तक अपने वोटर आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक नहीं किया है ऊपर दिए गए किसी भी आप्शन के माध्यम से आप अपना वोटर कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करा सकते है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here